3 नाबालिग किशोरियों को पुणे से तो 1 बच्ची मुंबई से बरामद

रीवा जिले के गढ़ थाना पुलिस ने ऑपरेशन मुस्कान के तहत महाराष्ट्र के पुणे से 3 नाबालिग लड़कियों को बरामद किया है. सूत्रों की माने तो दिसंबर के आखिरी दिन और जनवरी के मध्य में तीन लड़कियां स्कूल गई थीं। लेकिन जब वह नहीं लौटी तो परिजनों ने गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया।

Safety Alarm का तार काट ग्रामीण बैंक में घुसे चोर: टाला तोड़ कर शटर को काटा लेकिन चोरी करने में नाकाम

इसके बाद गढ़ थाना प्रभारी ओंकार तिवारी, लालगांव चौकी प्रभारी अनुराग अवस्थी, आरक्षक पवन सत्यार्थी, महिला आरक्षक सीमा मिश्रा के नेतृत्व में साइबर सेल की मदद ली गयी. जहां बीते दिन तीनों किशोरों को बरामद कर उनके परिजनों को सौंप दिया गया है.

दिसंबर के आखिरी दिन दर्ज हुई प्राथमिकी:

31 दिसंबर 2021 को गांव बन निवासी शिकायतकर्ता लालगांव पोस्ट पर पहुंचा और बताया कि उसकी बेटी घर से स्कूल गई हुई है. शाम तक जब वह घर नहीं लौटी तो किसी अनहोनी का डर था। ऐसे चौकी पुलिस ने आईपीसी की धारा 363 लगाकर तलाशी ली। इस बीच बीते दिन साइबर सेल की मदद से महाराष्ट्र के पुणे शहर से तलाशी ली गई है.

TMKOC की दयाबेन हैं करोड़ों की मालकिन संपत्ति जानकर दंग रह जाएंगे आप

21 जनवरी को लापता:

अमा निवासी शिकायतकर्ता ने 21 जनवरी को लालगांव चौकी पर शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने यह भी कहा कि स्कूल जाने वाली बेटी अचानक लापता हो गई है. ऐसे में पुलिस ने कुछ संदिग्ध मोबाइल नंबरों को ट्रेस करने के लिए धारा 363 का केस भेजा था. जहां इस किशोरी का संबंध महाराष्ट्र के पुणे से भी मिला। जिसे बरामद कर परिजनों को सौंप दिया गया।

कपिल शर्मा को अपनी कॉमेडी से भी ज्यादा है किसी से प्यार?

परिवार के दूसरे बच्चे के साथ फरार

पुलिस ने बताया कि 21 जनवरी को एक गांव की दो किशोरियां और एक परिवार एक साथ स्कूल से लापता हो गया था. ऐसे में परिवार के दोनों सदस्य शिकायत लेकर पुलिस के पास पहुंचे थे. फिर पुलिस ने 06/022 और क्राइम नंबर 32/22 सेक्शन 363 लगाकर साइबर सेल की मदद ली। इसके बाद महाराष्ट्र के पुणे में टीम भेजकर तलाशी ली गई है।

श्वेता तिवारी के खिलाफ भोपाल में एफआईआर: श्वेता पर लगा धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप, एक्ट्रेस बोलीं- ‘भगवान’ ले रहा है मेरी ब्रा का साइज

3 साल बाद मिली नाबालिग लड़की:

3 साल बाद गुरद पुलिस ने एक नाबालिग लड़की का पता लगाया है। सूत्रों की मानें तो नाबालिग लड़की 30 मार्च 2019 को घर से बाहर गई थी। लेकिन वापस नहीं आई। ऐसे में पुलिस ने धारा 363 का अपराध स्थापित कर जांच के दायरे में ले लिया है। काफी मशक्कत के बाद पिछले दिन मुंबई से इसे बरामद कर परिजनों को सौंप दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.