मनगवां थाना अंतर्गत नदहा गांव की एक किशोरी ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली है. सूत्रों की माने तो किशोरी के माता-पिता पुणे में रहकर मजदूरी का काम करते थे। जबकि बेटी गांव के एक कमरे में अकेले रहकर 9वीं कक्षा में पढ़ती थी। हालांकि, बगल में दादा-दादी का घर था। पास के एक गाँव में एक दादी थी। ऐसे में मामा उसे देखा करते थे। लेकिन रविवार की रात खाना खाकर सोई किशोरी सोमवार की सुबह घर से बाहर नहीं निकली।

भारत देश की स्थिति अथवा आकार की सम्पूर्ण जानकारी, जानिए भारत में किन किन राज्यों से कर्क रेखा गुजरती है

साथ में पढ़ने वाला दोस्त सुबह जब घर पहुंचा तो दरवाजा अंदर से बंद था। ऐसे में दादा-दादी समेत मामा को बुलाया गया। हादसे की आशंका देखकर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़ा तो किशोरी लटकी मिली। पंचनामा कार्रवाई के बाद शव को फंदे से उतारकर गंगेव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेज दिया गया है. फिलहाल मंगवां पुलिस ने हादसे के कारणों की जांच शुरू कर दी है।

TMKC Chashmah Netflix पर आएगा एनिमेटेड शो, खूब मचेगा कॉमेडी का धमाल

आत्महत्या की सूचना पर गांव पहुंची पुलिस:

मंगवां थाना प्रभारी निरीक्षक डीके दहिया ने बताया कि सोमवार की सुबह नदहा गांव निवासी 15 वर्षीय किशोरी के आत्महत्या करने की सूचना थाने में आई थी. जिसके बाद मैं खुद मौके पर गया। जांच में पता चला कि किशोरी नौवीं कक्षा में पढ़ती थी और गांव में बने एक कमरे में अकेली रह रही थी। मृतक के पिता पुणे में मजदूरी का काम करते थे, इसलिए मां वहीं रहती थी। बगल के घर में दाई और पिता रहते थे। लेकिन बीती रात अज्ञात कारणों से लड़की को फांसी पर लटका दिया गया।

KGF का वो किरदार, जिसके एक डायलॉग ने पूरी फिल्‍म ही पलट दी जानिए?

एफएसएल यूनिट ने जुटाए घटना के सबूत:

मनगवां थाना प्रभारी ने आत्महत्या के मामले को देख रहे शीर्ष पुलिस अधिकारियों को संदेहास्पद नजरिये से अवगत कराया था. ऐसे में रीवा मुख्यालय से एफएसएल यूनिट को मौके पर भेजा गया। जहां वरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी डॉ. आरपी शुक्ला की टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण कर महत्वपूर्ण साक्ष्य जुटाए हैं. पहले तो पुलिस इसे सुसाइड मान रही है। लेकिन खुदकुशी के पीछे की असली वजह पीएम की रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा.

MP बजट 2022 : निजी हाथों को सौंपा जाएगा रीवा जिले का गोविंदगढ़ किला हेरिटेज होटल के रूप में होगा विकसित, सिंगरौली में माइनिंग कॉलेज खोली जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.