बकिया बराज गेट नंबर 6, जहां से मिला शव

शहडोल के जिला अस्पताल में तीन घंटे चला ऑपरेशन, मासूम की बचाई जान: मौत के कगार पर थी मासूम, 140 इंजेक्शन से बदल दिया खून

रीवा जिले के चोरहटा थाना अंतर्गत रुपौली गांव से संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुए युवक का शव चौथे दिन बरामद कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक 8 जनवरी से सतना जिले के कोटर थाना क्षेत्र के बकिया बराज में दो जिलों की SDRF टीम सर्चिंग कर रही थी। सोमवार की सुबह करीब 11 बजे युवक का शव मिला।

फिलहाल मृतक के शव को बांध से ऊपर लाने के बाद पीएम के लिए अस्पताल भिजवा दिया गया है। कोटर पुलिस की मानें तो बांध के किनारे स्कूटी मिलने के कारण शुरुआत से ही सुसाइड की आशंका व्यक्त की जा रही थी। मर्ग कायम कर पीएम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मिली जानकारी के मुताबिक रजनीश तिवारी पुत्र निसेस्वर तिवारी (27) निवासी रुपौली थाना चोरहटा अज्ञात कारणों से लापता हो गया था। परिजनों ने देर रात शुक्रवार को गुमशुदगी दर्ज कराई थी। दूसरे दिन चोरहटा पुलिस युवक को तलाशते हुए सतना जिले के बकिया बराज पहुंची। जहां बांध के किनारे स्कूटी लावारिस हालत में खड़ी दिखी।

जबकि डैम के किनारे चबूतरे में चाभी भी रखी मिली है। ऐसे में आशंका व्यक्त की जा रही थी कि युवक ने बांध में छलांग लगाकर खुदखुशी कर ली होगी। सुसाइड की संभावना को देखते हुए कोटर पुलिस को पूरे मामले से अवगत कराया। जिसके बाद SDRF और होमगार्ड के गोताखोरों को मौके पर बुलाया।

तीन दिन से चल रही सर्चिंग
शनिवार की सुबह सतना जिला सेनानी आईके उपनारे के निर्देश में SDRF पीसी विकाश पाण्डेय के नेतृत्व में 8 सदस्यीय होमगार्ड व SDRF की टीम घटनास्थल पर पहुंची थी। जहां सुबह से शाम तक सर्चिंग की लेकिन सफलता नहीं मिल पाई है। इसी तरह दूसरे दिन रविवार को दिनभर सर्चिंग चली है। लेकिन सफलता तीसरे दिन सोमवार को मिली है। दावा है कि रीवा जिले की SDRF टीम भी सहयोग में लगी हुई थी।

SDRF की सर्चिंग के दूसरे तरफ मिला शव
ग्रामीणों ने बताया कि एसडीआरएफ की टीम जहां तीन दिन से रेस्क्यू ऑपरेशन कर रही थी। वहां से नहीं बल्कि बांध के दूसरे तरफ लाश दिखी थी। पुलिस अधिकारियों का मानना था कि लोग ज्यादातर गहराई की ओर छलांग लगाते है। लेकिन मृतक रजनीश तिवारी ने जिधर कम पानी था। वहां छलांग लगाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.