सचेंडी थाने की पुलिस ने शहर में अवैध रूप से हरियाणा की शराब तस्करी करने वाले गिरोह के सरगना समेत छह लोगों को दबोच लिया। शातिर तस्करों ने बिल्कुल हरियाणा की शराब छिपाकर सप्लाई करने का बिल्कुल नया तरीका निकाला और ट्रैक्ट्रर ट्रॉली के नीचे शराब छिपाकर पूरे शहर में अवैध शराब की सप्लाई कर रहे थे। लेकिन मुखबिर की सटीक सूचना पर पुलिस ने गिरोह का भंडाफोड़ कर दिया।

बरामद हरियाणा की अंग्रेजी की शराब।

बरामद हरियाणा की अंग्रेजी की शराब।

घाटमपुर और आगरा के तस्कर शहर में खपा रहे थे हरियाणा की शराब
एसपी आउटर अजीत कुमार सिन्हा ने बताया कि सचेंडी थाने की पुलिस रनिया की ओर से आने वाले वाहनों की रायपुर में चेकिंग कर रही थी। इस दौरान मुखबिर की सटीक सूचना पर ट्रैक्टर ट्राली को रोककर उसकी चेकिंग की गई तो दंग रह गई। ट्रॉली के नीचे बने गोपनीय बॉक्स में 37 पेटी हरियाणा की अंग्रेजी शराब बरामद हुई। पुलिस ने संदिग्ध लगने पर ट्रैक्टर के पीछे चल रही कार से तस्करों को भी दबोच लिया। ट्रैक्टर चालक ने अपनी पहचान फरीदाबाद गोंची थानाक्षेत्र के सरूरपुर निवासी सोनू उर्फ सतीश बताया। जबकि पीछे दो कार से चल रहे घाटमपुर के कुष्मांडा निवासी जीतू उर्फ जीतेंद्र, रवि शंकर अग्निहोत्री और आगरा निवासी अवनीश कुमार यादव, रामराज राजावत और सोनू उर्फ नारायण बताया। घाटमपुर निवासी दोनों सरगना पूरे कानपुर में अवैध रूप से हरियाणा की शराब खपा रहे थे। पुलिस अब गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश में छापेमारी कर रही है।
कानपुर से हरियाणा तक फैला है गिरोह का तार
पकड़े गए शराब तस्करों के तार हरियाणा तक जुड़े हुए हैं। इसी के चलते वह हरियाणा की शराब अवैध रूप से कानपुर मंगाकर यहां पर पूरे शहर में सप्लाई कर रहे थे। पुलिस को गैंग से जुड़े कई अहम साक्ष्य मिले हैं। अब पूरे नेटवर्क का खुलासा करने के लिए कानपुर आउटर की पुलिस काम कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.