जबलपुर ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में धमाका, 11 कर्मचारी बुरी तरह झुलसे: घायल बोले-अचानक धुंआ और आग की लपटें उठीं

0
9

केंद्रीय सुरक्षा संस्थान आयुध निर्माणी खमरिया के फिलिंग सेक्शन में गुरुवार दोपहर आग लग गई। हादसे में 6 कर्मचारी झुलस गए। घटना उस वक्त हुई जब बम को भरने के लिए बारूद को पिघलाने का काम किया जा रहा था. आग पिघले हुए बारूद को ट्रे में रखने के दौरान लगी। घायलों को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल कर्मचारी ने बताया कि आग लगने के बाद कोहराम मच गया। मैंने दो दोस्तों को बाहर भागते देखा। घायलों को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हादसे की पूरी कहानी:

दोनों आग की लपटों से घिरे एक साथ बाहर भागे:

हादसे में घायल कर्मचारी करण आर्य ने कहा- गुरुवार दोपहर के तीन बजे थे। एफ-6 सेक्शन के बिल्डिंग नंबर 637 में बारूद को मेल्टर मशीन से मिलाया जा रहा था। मैं भी वहां अपने साथियों के साथ काम कर रहा था। कुछ दोस्त बिल्डिंग के अंदर थे। अचानक मैंने देखा कि अंदर से धुंआ निकल रहा है। जब तक कुछ पता चलता तब तक आग बुझ चुकी थी। आग की लपटें उठ रही थीं। सब इधर-उधर भागने लगे। बिल्डिंग के अंदर से दो साथी भागते हुए आ रहे थे। वे आग की लपटों में घिर गए। उस समय ऐसा लग रहा था कि आग में पूरा खंड जलकर राख हो जाएगा। हादसे में मेरे साथ नंदकिशोर, अंकित तिवारी, कालूराम मीणा, विजय और श्याम देव भी जल गए।

एफ-6 सेक्शन में पहली बार हुआ हादसा:

एफ-6 सेक्शन में यह हादसा पहली बार हुआ है। यहां हर तरह के बड़े बम बनाए जाते हैं। घायलों को देखने पहुंचे स्टाफ लीडर अर्नब दास गुप्ता ने बताया कि 450 किलो के बम का गोला बारूद मिल्टन मशीन से तैयार किया जा रहा था. उसी समय मिल्टन मशीन में विस्फोट हो गया और उसमें आग लग गई। करीब 50 फीसदी झुलस चुके नंदकिशोर को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. गुप्ता के मुताबिक फिलिंग-6 सेक्शन में आज जो घटना हुई है, वहां पहले कभी नहीं हुई.

गंभीर रूप से घायलों को एयर एंबुलेंस से मुंबई भेजा जाएगा:

आयुध निर्माणी खमरिया के फीलिंग-6 खंड में हुए हादसे में गंभीर रूप से झुलसे कर्मचारी नंद किशोर से मिलने अस्पताल पहुंचे महाप्रबंधक अशोक कुमार. उन्होंने बताया कि नंद किशोर के बेहतर इलाज के लिए मुंबई के नेशनल बर्न सेंटर में बातचीत चल रही है. नंद किशोर को शुक्रवार सुबह एयर एंबुलेंस से मुंबई ले जाया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here