FASTag आपकी गाड़ी में लगा है

FASTag Rules: यूपी में इतने एक्सप्रेसवे और हाईवे हो गये हैं कि अब हर आदमी उसी से सफर कर रहा है। हाँलाकि इन एक्सप्रेस-वे और टोल रोड पर सफर के दौरान आपको टोल प्लाजा से गुजरना होता है। इन टोल प्लाजा से गुजरने वाली सभी गाड़ियों के लिए FASTag ज़रूरी कर दिया गया है। इसी वजह से अब करीब-करीब सभी गाड़ियों में FASTag लग चुके हैं।

जिस वजह से अब आपको टोल पर रूककर कैश में टैक्स नहीं भरना पड़ता है। अब सेंसर के जरिए आपके फास्टैग अकाउंट से पैसे कट जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि फास्टैग को लेकर कई नियम भी बनाए गए हैं। जिन्हें शायद आप न जानते हों मगर इन नियमों को आपको जानना जरूरी है। अगर आप इन नियमों को नहीं जानते हैं तो आप मुश्किल में पड़ सकते हैं। अगर आप फास्टैग का इस्तेमाल करते हैं तो आज हम आपको इससे जुड़े नियमों के बारे में बताएंगे।

1. अगर आप चार पहिया वाहन या बड़े वाहन से हैं और आपके पास FASTag की सुविधा नहीं है और आपने वाहन को FASTag लेन में डाल दिया है, तो ऐसी स्थिति में आपसे दोगुना टोल टैक्स वसूला जाएगा।

2. इसके अलावा अगर आपके पास फास्टैग है लेकिन उसमें कम बैलेंस है, या फास्टैग डैमेज है और आप ने उस लेन में गाड़ी को डाला है तो इस स्थिति में भी आपको दोगुना टैक्स चुकाना पड़ेगा।

3. अगर आप अपनी गाड़ी के लिए थर्ड पार्टी इंश्योरेंस ले रहे हैं, तो उसके लिए भी फास्टैग की जरूरत है। बतादें कि पहले ऐसा नियम नहीं था, लेकिन अब गाड़ी का बीमा कराने से पहले इस बात का ध्यान रखें कि फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है।

4. कोई गाड़ी मालिक एक ही फास्टैग को अपनी अलग-अलग गाड़ियों के लिए इस्तेमाल नहीं कर सकता। एक फास्टैग सिर्फ एक ही गाड़ी के लिए होता है। अगर आपके पास दो-चार गाड़ियां हैं, तो हर गाड़ी के लिए अलग-अलग फास्टैग इश्यू कराना होगा। नहीं तो पकड़े जाने पर आप पर कानून संवत कार्रवाई की जा सकती है।

5. पाचवां और आखिर नियम जो आपके लिए फायदेमंद है। अगर आप किसी निश्चित टोल प्लाजा से हमेशा या बार-बार ट्रैवल करते हैं तो आप बैंक के जरिये मंथली पास भी बनवा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.