Rewa News Today: उत्तर भारत में हो रही भीषण बर्फबारी की वजह से मध्यप्रदेश समेत विंध्य के मौसम का मिजाज बदल गया है। ऐसे में मंगलवार की सुबह पहले कोहरा दिखाई दिया। कुछ घंटों बाद कोहरा छठकर काले बादल का रूप ले लिया। फिर जैसे ही दोपहर के 12 बजे वैसे ही रिमझिम बारिश का दौर शुरू हो गया है। बारिश के कारण शहर में अचानक मौसम बदल गया है। ​ठिठुरन व गलन बढ़ने से लोग घरों में कैद हो गए है।

मौसम विज्ञानिकों का दावा है कि 48 घंटे तक इसी तरह हल्की-हल्की बारिश होती रहेगी। दो दिन के दौरान वर्षा तेज होने और ओले गिरने की संभावना बनी है। वहीं कृषि वैज्ञानिकों ने कहा कि ये बारिश रबी की फसल के लिए फायदेमंद है। अभी किसान खेतों में ट्यूबवेल चलाकर पानी दे रहे हैं। बारिश होने से उनका डीजल व बिजली का खर्च बच जाएगा।

…तो खरीदी केन्द्रों में होगा भारी नुकसान
बता दें कि रीवा जिले में 25 नवंबर से ​तीन सैकड़ा से ज्यादा उपार्जन केन्द्रों में धान की खरीदी चल रही है। लेकिन मंगलवार को अचानक से आए मौसम के बदलाव के कारण खरीदी केंद्रों में रखी धान भीग गई है। वहीं दावा है कि जिन केन्द्रों से धान का उठाव हुआ है। वह ओपन कैंपों में खुले पर अभी रखी है। ऐसे में भारी मात्रा में धान भीगने की जानकारी मिल रही है। इस वर्ष रीवा जिले में 4.20 लाख टन धान के उपार्जन का अनुमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.