MP NEWS: सड़क किनारे मिले हीरे, पन्ना में 10 लोगों की एक साथ चमकी किस्मत, पन्ना के इतिहास में हुआ यैसा पहली बार

0
25

MP Panna Diamond News : प्रदेश का पन्ना जिला आम लोगों की तकदीर बदलने के लिए जाना जाता है. यहां कब किसकी किस्मत बदल जाए कहा नहीं जा सकता। जिले में कई ऐसे लोग हैं जिन्हें अपनी तकदीर बदलने की कोई कोशिश ही नहीं करनी पड़ी, उन्हें हजारों की कीमत का हीरा यूं ही मिल गया। शायद ऐसे ही लोगों को भाग्यशाली धनवान कहा जाता है।

ALSO READ: शिक्षकों के लिए अच्छी खबर मिलेगा टाइम स्केल वेतनमान का लाभ,लागू हुए आदेश, जल्द ही मिलेगा वेतन

कहा जाता है कि जिले के पास के एक गांव के निवासी इंद्रजीत को मिट्टी के एक पुराने ढेर में 4.38 कैरेट का एक दुर्लभ हीरा मिला था। इस हीरे की अनुमानित कीमत 17 करोड़ रुपए बताई गई थी। युवक ने हीरा प्राप्त करने के बाद उसे हीरा कार्यालय में जमा करा दिया। इस हीरे को आगामी नीलामी में प्रदर्शित किया जाएगा।

चलते चलते उसे हीरा मिल गया

न प्रेम, न आशा, न परिश्रम इन्द्रजीत को हीरा यूं ही मिल गया। बताया जाता है कि जिले के जरुआपुर निवासी इंद्रजीत ने एक पुरानी खदान के मिट्टी के ढेर में टहलते हुए एक चमकता हुआ पत्थर देखा। उसने देखा कि युवक किसे उठाता है। युवक ने घर पहुंचकर वह पत्थर अपने पिता रवींद्रनाथ सरकार को दिखाया। जब पिता ने बेटे को बताया कि जिसे वह पत्थर समझ रहा है वह दुर्लभ हीरा है, तो बेटा हैरान रह गया। पिता जी हीरा लेकर सीधे हीरा के ऑफिस चले गए।

ALSO READ: छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून-NSA लागू करने की अधिसूचना पर बवाल: भाजपा ने कहा- यह आदिवासी संस्कृति को नष्ट करने की साजिश है

उसने हीरा कहाँ रखा? कार्यालय में तैनात हीरा विशेषज्ञ अनुपम सिंह ने बताया कि यह उच्चतम कोटि का हीरा है। इसका वजन 4.38 कैरेट है। हीरे को आगामी नीलामी के लिए रखा जाएगा। हीरे से बरामद राशि से 12 प्रतिशत सरकारी शुल्क और 1 प्रतिशत टैक्स काटकर शेष राशि हीरा रखने वाले युवक के खाते में भेजी जाएगी। कहा गया कि हीरा खदान के किसी भी इलाके में युवक के नाम से पट्टा नहीं है।

इंसानों को हर साल 10 अनमाइन्ड डायमंड मिलते हैं

यह पहली बार नहीं है जब लोगों को चलते समय सड़क किनारे हीरों से मारा गया हो। एक साल में 10 लोगों को ऐसे मिले हीरे पन्ने के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि लोगों को अचानक सड़क पर हीरे मिले। गौरतलब है कि एक साल में इस तरह से हीरा पाने वालों में समीर सिंह को 1.41 कैरेट, गेंदा बाई को 4.39 कैरेट, नंदलाल को 2.83 कैरेट, छोटे लाल को 0.85 कैरेट, निरुपल को 1, 30 कैरेट, पन्नालाल कुशवाहा को मिला है। 2.00 कैरेट मिला। भवानी दीन रैकवार को 2.85 कैरेट, राजकिशोर सिंगरौल को 1.36 कैरेट, वृदांवन रैकवार को 4.86 कैरेट का हीरा मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here