रीवा मे अंधी हत्या का खुलासा: नववर्ष की रात पार्टी कर दो आरोपी पैदल आ रहे थे मेन रोड, मृतक ने मदद मांगी तो सिगरेट के विवाद में कर दी हत्या

रीवा शहर के विश्वविद्यालय थाना अंतर्गत गायत्री नगर में नववर्ष की रात हुई ट्रांसपोर्ट कारोबारी की अंधी हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। एएसपी नवनीत भसीन ने बताया कि घटना वाली रात मृतक की कार डिवाइडर से नीचे उतर गई थी। ऐसे ट्रांसपोर्ट कारोबारी ने कार को निकालने का प्रयास किया। लेकिन जब कार बाहर नहीं निकली तो छोड़कर पैदल घर की ओर जाने लगा। तभी सामने से दो युवक पैदल नशे की हालत में मेन रोड की ओर आ रहे थे।

जहां कुछ मिनटों के लिए ट्रांसपोर्ट कारोबारी की कार निकलवाने में मदद मांगने पर दोस्ती हो गई। इसी बीच आरोपियों ने सिगरेट पीने को लेकर कहासुनी शुरू कर दी। देखते ही देखते दोनों आरोपियों ने पत्थर उठाकर मारपीट कर हत्या कर दी। मौत हो जाने पर साक्ष्य मिटाने के लिए शव को दीवार के किनारे छिपाते हुए पत्थर पटककर चेहरा खराब कर दिया था। इसके बाद तीसरे आरोपी की बाइक में बैठकर तीनों फरार हो गए थे।

दूसरे दिन मोहल्ले के मोड पर मिला था शव
2 जनवरी की सुबह 10.30 बजे विश्वविद्यालय थाना प्रभारी निरीक्षक जेपी पटेल को गायत्री नगर मोड के समीप एक शव मिलने की सूचना आई। मौके पर पुलिस टीम पहुंची ने मृतक की शिनाख्त ट्रांसपोर्ट व्यवसायी प्रकाश सिंह परिहार उर्फ पिंटू (30) हाल मुकाम गायत्री नगर स्थाई निवास बघवार गांव थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी के रूप में की। फॉरेंसिक जांच आदि के बाद पीएम कराते हुए शव परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया। जांच में पता चला कि मृतक घटना वाली रात अपने दोस्त के घर से पार्टी कर लौट रहा था। लेकिन अपने मकान नहीं पहुंचा। दूसरे दिन मोहल्ले के मोड पर दीवार के किनारे शव मिला था।

ऐसे हुआ अंधी हत्या का पर्दाफाश
अंधी हत्या के बाद विश्वविद्यालय थाने में अपराध क्रमांक 2/2022 धारा 302, 201, 34 आईपीसी का प्रकरण दर्ज किया। इसके बाद पुलिस के आला अधिकारियों ने साइबर सेल की मदद से घटना की जांच शुरू की। साथ ही घटना से जुड़े सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। वहीं मोहल्ले व हाईवे के आसपास रहने वाले कई लोगों से बयान लिए गए। तभी मुखबिर से सूचना आई की वारदात की रात एक जगह पार्टी हुई थी। जहां 6 से 7 लड़के एकत्र हुए थे। बाकी लोग पार्टी के बाद अपने-अपने घर सोने चले गए।

दो आरोपी आधी रात मेन रोड जा रहे थे
पुलिस की मानें तो गौरव तिवारी उर्फ गोलू पुत्र राजेन्द्र तिवारी (21) निवासी कोल्हा थाना शाहपुर और नीलेश मिश्रा पुत्र मुनेन्द्र मिश्रा (24) निवासी सलैया थाना कमर्जी जिला सीधी हाल निवास जीआरपी लाइन कटनी पार्टी के बाद रात 11.30 से 12.30 बजे गायत्री नगर मेन रोड की तरफ पैदल जा रहे थे। इसी बीच रास्ते में मृतक प्रकाश सिंह परिहार उर्फ पिंटू से मुलाकात हो गई। जहां सिगरेट को लेकर लेकर कहासुनी हो गई। इसके बाद हत्या कर अमन तिवारी पुत्र नागेन्द्र ​प्रसाद तिवारी (22) निवासी हटवा थाना शाहपुर को वारदात की जानकारी देकर मौके पर बुलाया। बाइक आते ही तीनों एक साथ फरार हो गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *