श्याम शाह मेडिकल कॉलेज


श्याम शाह मेडिकल कॉलेज के छात्रों को मानव शरीर रचना का ज्ञान करने के लिए आवश्यक होती है डेड बॉडी

रीवा शहर के श्याम शाह मेडिकल कॉलेज में छात्रों को प्रैक्टिकल के लिए आवश्कता पड़ने वाली देह की पूर्ति के लिए अब विंध्य में दधीचियों की कमी नहीं है। यहां 16 साल के भीतर 16 लोगों ने देहदान किया है। देह देने में सबसे आगे रीवा जिला है। ऐसे में रीवा के 13 और सतना के 3 दधीचि​यों ने अब तक देहदान किया है। बता दें कि रीवा मेडिकल कॉलेज को 14 साल में 10 और दो साल में 6 दधीचि मिले हैं। इस तरह 16 साल में चिकित्सा छात्रों की पढ़ाई के लिए 16 देह परिजनों के माध्यम से सौंपी गई है।


एनाटॉमी विभागाध्यक्ष डॉ. जीपी खानवलकर ने बताया कि श्यामशाह चिकित्सा महाविद्यालय में पहला देहदान 21 जुलाई 2004 को रामप्रताप सक्सेना का हुआ था। इसके बाद देहदान के लिए 8 साल तक इंतजार करना पड़ा। काफी दिनों बाद वर्ष 2012 में दूसरा देहदान हुआ। इसके बाद हर साल मृत शरीर कॉलेज को मिलते रहे। वर्ष 2019 तक देहदान की संख्या 10 पहुंच गई थी। जबकि वर्ष 2020 में दो देहदान हुए। वहीं 2021 में चार देहदान होने से दधीचियों का आंकड़ा 16 हो गया है।


प्रैक्टिकल में 20 छात्रों के बीच लगती है एक बॉडी:

मेडिकल कॉलेज की गाइडलाइन के अनुसार 20 छात्रों के बीच में एक मृत शरीर पढ़ाई के लिए आवश्यक होता है। एमबीबीएस की पहले 100 सीट थी, जो अब 150 हो गई है। इस तरह पहले जहां 5 बॉडी की आवश्यकता होती थी, वहीं अब 8 देह की हर हाल में आवश्यकता होती है। एक ऐसा भी समय आया था जब मृत शरीर की कमीं होने पर इसकी पूर्ति इंदौर मेडिकल कॉलेज से की गई थी। वर्ष 2012 में इंदौर मेडिकल कॉलेज से रीवा को पांच मृत शरीर मिले थे, जिससे छात्रों की पढ़ाई कराई गई थी।


एक सैकड़ा आवेदन, देहदान कम:

मेडिकल कॉलेज में एक सैकड़ा लोगों के देहदान के आवेदन हैं। लेकिन वास्तविकता यह है कि निधन होने के बाद इन सभी के शव कॉलेज को नहीं मिल पाते। यदि आवेदन भरने वाले सभी का वास्तव में देहदान हो, तो देह दाताओं की सूची बढ़ सकती है। मेडिकल कॉलेज के छात्रों की पढ़ाई के लिए एक चिकित्सक का शरीर भी मिला था। प्रसिद्ध स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. एससी सक्सेना का निधन होने पर उनकी इच्छा के अनुसार परिजन ने देहदान और नेत्रदान किया था। वे इसी कॉलेज में लम्बे समय तक पदस्थ रहे।

यह भी पढ़े:-

  1. एमपी पुलिस भर्ती : M.P Police16 हजार आरक्षको के पद रिक्त, 4 हजार पदों पर होगी भर्ती
  2. Rewa News: रीवा जिले की हनुमना बॉर्डर में माइनिंग विभाग ने छापामार कार्रवाई की जिसमे 5 ओवरलोड वाहनों को पकड़ा
  3. Cryptocurrency Update: Bitcoin vs Altcoins बिटकॉइन के बाद यह क्रिप्टोकरेंसी बनाएगी आपको मालामाल Altcoins की कीमतों में उछाल संभावनाएं
  4. Railway Updates: रीवा, सतना, कटनी, जबलपुर समेत 11 रेलवे स्टेशनों की प्लेटफॉर्म टिकट हुई सस्ती जाने कितनी दर घटाई गई

Leave a Reply

Your email address will not be published.