इंदौर में सेक्स रैकेट पकड़ा

बांग्लादेश से युवतियों को भारत लाकर देह व्यापार कराने वाले दलाल को इंदौर के विजयनगर थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दो युवतियां भी पकड़ी गई हैं। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वे बांग्लादेश से युवतियों को इंदौर लाकर दूसरे इलाकों में सप्लाई करते थे। पुलिस देह व्यापार में लिप्त आशिक और जोया नाम की दो लड़कियों से भी पूछताछ कर रही है।

दलालों और युवतियों के पास से 14 मोबाइल बरामद हुए हैं। इन नंबर्स पर अलग-अलग जगह से युवतियों के लिए डिमांड आया करती थी। अब पुलिस इन नंबरों की कॉल डिटेल निकालने में लगी है। सेक्स रैकेट के दलाल बांग्लादेश से लाई गईं इन युवतियों को कोड वर्ड ‘गाड़ी’ कहकर बुलाते हैं। पुलिस ने बताया कि दलाल विजय दत्त के पास से बांग्लादेश का बना हुआ पासपोर्ट भी जब्त किया गया है।

पुलिस पहुंची मुंबई, दलाल आ गया इंदौर

इंदौर पुलिस सेक्स रैकेट के गिरोह को लगातार ट्रेस कर रही है। विजयनगर थाना पुलिस ने कुछ दिन पहले मुंबई में कई जगह दबिश दी। इससे पहले ही दलाल विजय दत्त इंदौर आ गया। उसे मंगलवार दोपहर पुलिस ने हिरासत में लिया है।

पश्चिम बंगाल का रहने वाला है दलाल


दलाल विजय दत्त ने पुलिस को बताया कि उसका पूरा नाम विजय कुमार दत्त (40) है। वह ग्राम कालीपुर (पश्चिम बंगाल) का रहने वाला है। 10 साल से मुंबई के नालासोपारा में रह रहा है। यहां वह होटल में काम करता था। 5 साल पहले उसे एक लड़की मिली, जिसने अपना नाम रूबी बताया। उसी के जरिए वह इस पेशे में आया।

धोखे से लाते हैं युवतियां


एक साल पहले अक्टूम्बर में विजय नगर पुलिस ने महालक्ष्मी नगर के एक होटल में बंधक बनाकर रखी गईं 13 लड़कियों को छुड़ाया था। इनमें से 9 बांग्लादेश से और 4 पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और बिहार से थीं। सभी को नौकरी के बहाने लाया गया था और सेक्स रैकेट में झोंक दिया गया था। जांच में हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का खुलासा तब हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.