रतलाम में जुए और सट्‌टे को लेकर वर्चस्व में दो लोगों को गोली मार दी गई। बदमाश पिस्टल और तलवार से लैस होकर आए थे। घर के बारह बैठे दो युवकों पर फायरिंग की और तलवार से हमला कर दिया गया। दूसरा पक्ष भी आरोपियों से भिड़ गया। बदमाश भाग निकले। गोली लगने से दो लोग घायल हुए हैं। एक आरोपी को पकड़ लिया गया है। हमले का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है।

नीम के 20 अचूक फायदे जानिए कैसे करे उपयोग, आपको नीम के बारे मे वो 20 गुण बताने बाले है जिनको जानकर आप हैरान हो जाएंगे

वारदात रतलाम जीआरपी थाना क्षेत्र के गुजराती की चाल का है। हमले में सुमित गायकवाड़ उर्फ रीक्की और उसका साथी जोंटी घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जीआरपी पुलिस के अनुसार हिमांशु और वैभव जायसवाल नाम के युवकों ने हमला किया।

वीडियो में दिख रहा है कि घर के बाहर बने टीनशेड में तीन युवक बैठे हैं। इसी दौरान दो बदमाश हाथ में पिस्टल और तलावार लेकर आते हैं और फायरिंग शुरू कर देते हैं। बदमाशों को देखकर युवक भागने लगते हैं। दो को गोली लग जाती है। इसके बाद बदमाश भागने लगते हैं। एक बदमाश से घायल की हाथापाई भी होती है। घायल युवकों ने बताया कि हमला करने वालों में हिमांशु, वैभव जायसवाल और जसवंत शामिल थे जो आदतन अपराधी हैं।

हालांकि यह पूरा विवाद जुड़े और सट्टेबाजी के कारोबार को चलाने को लेकर हुआ है, लेकिन अपने ही थाना क्षेत्र में है जुए और सट्टेबाजी पर लगाम लगाने में नाकाम रही जीआरपी पुलिस इसे निजी विवाद बता रही है।

CDS Bipin Rawat Helicopter Crash: हादसे की तस्वीर आई सामने, देखकर कांप जाएंगे आप

पहले भी हो चुका है विवाद


यहां जुए और सट्टेबाजी के अड्डे पकड़े जाने के साथ ही गैंगवार की घटनाएं भी हुई है। कुछ महीने पहले रतलाम रेलवे स्टेशन के पार्किंग एरिया में सट्टा चलाए जाने की सूचना मिलने पर एसआई अनुराग यादव रतलाम रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 4 के पास पार्किंग एरिया में पहुंचे थे। यहां साइकिल स्टैंड संचालक रवि मीणा और उसके साथियों ने एसआई अनुराग यादव के साथ हाथापाई की थी। वही साइकिल स्टैंड संचालक रवि मीणा और उसके साथियों ने एटीएस के 2 जवानों से भी झूमाझटकी की थी । इसके बाद विवाद बढ़ने पर एक जवान ने पिस्तौल निकाल ली थी।

ट्रेन का रिजर्वेशन निरस्त करने के बदले 300 रुपये काटने पर 11 बार कार चढ़ाकर दुकानदार को मार डाला

Leave a Reply

Your email address will not be published.