रीवा में मायके न भेजने पर सुसाइड: पति की तबीयत बिगड़ने पर पत्नी को रोका, नाराज हो कर गई, 4 दिन बाद पेड़ पर लटका मिला

हाल ही में एक विवाहित महिला ने रीवा क्षेत्र में खुद को संतुलित कर सब कुछ खत्म कर दिया। सूत्रों की मानें तो तीज पर्व आने पर भाई मायके से अपनी बहन को बुलाने आया था। वहां सास-ससुर ने तबीयत खराब होने के कारण उसे ससुराल नहीं भेजा। इससे महिला परेशान हो गई। उसने वादा किया कि वह किसी भी कीमत पर अपने मायके जाएगी। इसके बावजूद सास-ससुर की बेबसी का पता चलने पर भाई-बहन वापस आ गए। यहां से महिला का सिर उठा।

Rewa News: घर में मिला सेना के जवान की पत्नी का शव, रीवा में पुलिस ने पति और ससुर को किया गिरफ्तार, सिर में है बड़ा घाव

यह गारंटी है कि जब उसका भाई चला गया तो महिला गायब हो गई। फिर, ससुराल वाले महिला की तलाश में तनाव में थे। अगले दिन जब उसका कहीं पता नहीं चला तो उसने मायके पक्ष के साथ पुलिस को सूचना दी। इसी बीच शुक्रवार की सुबह डभौरा थाना क्षेत्र के मजरूआ जंगल में शव मिलने की सूचना पुलिस को मिली. मौके की जांच के बाद महिला की पहचान सुषमा कोल के रूप में हुई।

रीवा की महिलाओं के लिए रोजगार का सुनहरा अवसर: रीवा में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका पद के लिए निकली भर्ती, जान ले कैसे भरे आवेदन

यह स्थिति है

डभौरा थाना प्रभारी गीतांजलि सिंह ने बताया कि शुक्रवार की सुबह मिले शव की पहचान सुषमा कोल, पत्नी ऋतुराज कोल 22 वर्षीय लोहगढ़ निवासी के रूप में हुई है. वह तीज उत्सव के दिन 30 अगस्त को गायब हो गई थी। सास-ससुर ने बताया कि मृतक की पत्नी बीमार थी। यही कारण है कि उस दिन हमने हमें घर नहीं लौटने दिया। इन पंक्तियों के साथ वह उग्र थी। वह बिना बताए मजरूआ वुडलैंड पहुंच गई।

FSL इकाई कहा जाता है

लगभग उसी समय उसने एक सागौन के पेड़ में रस्सी का फंदा बनाकर सब खत्म कर दिया। वहीं दूसरी ओर मायके पक्ष के लोगों ने हत्या का आरोप लगाया है। ऐसे में एफएसएल यूनिट को बुलाया गया। जिसने प्रकरण से जुड़े तार्किक प्रमाण जुटाए हैं। अभी तक शव को फंदे से बाहर निकाल कर पीएम को खत्म करने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है। फिलहाल पीएम की रिपोर्ट आने की उम्मीद है। जिसके बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *