रीवा जिले में पुलिस शब्द को कलंकित करने वाले आरक्षकों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही है। एसपी नवनीत भसीन के जारी आदेश के मुताबिक पनवार थाने के दो आरक्षक बालू के ट्रकों से पैसे मांगते हुए लेनदेन कर रहे थे। जिसकी शिकायत एसपी को मिली थी।

ऐसे में 10 दिसंबर को आरक्षक 498 अमित सिंह और आरक्षक 1219 मुनेश जाटव थाना पनवार को लाइन अटैच करते हुए तत्काल प्रभाव से रक्षित केन्द्र रीवा संबद्ध किया है। इसी तरह लोकायुक्त की ट्रैपिंग कार्रवाई में फंसे चोरहटा थाने के आरक्षक 571 अनुरोध तिवारी को 9 दिसंबर की रात निलंबित कर दिया गया था।

प्रेमी के साथ मिलकर बेरहमी से पिटवा दिया अपने ही भाई को, पीड़ित अस्पताल में भर्ती

5 दिन में 6 पुलिसकर्मियों निपटे


– सिटी कोतवाली थाने के आरक्षक कृष्णपाल सिंह और शरद सिंह चंदेल को 5 दिसं​बर को अनुशासन हीनता के चलते निलंबित किया।
– हनुमाना थाने के प्रधान आरक्षक राम विधाता कोल को नशे के हालत में ड्यूटी करने पर 6 दिसं​बर को निलंबित किया।
– लोकायुक्त ट्रैपिंग में फंसे चोरहटा थाने के आरक्षक अनुरोध तिवारी को 9 दिसंबर की रात निलंबित कर दिया।
– पनवार थाने के आरक्षक अमित सिंह और आरक्षक मुनेश जाटव को 10 दिसंबर की सुबह लाइन अटैच कर रक्षित केन्द्र भेजा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.