रीवा जिले के गढ़ थाना अंतर्गत अमहा गांव में एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। हादसे की भनक जैसे ही ग्रामीणों को लगी तो भारी संख्या में लोग एकत्र होकर बवाल मचाने लगे। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझाइश दी। फिर भी प्रदर्शन कारी नहीं मानें।

इधर परिजनों ने पुलिस के सामने ही हत्या का आरोप लगाने लगे। दावा किया है कि ट्रैक्टर की ठोकर लगने से उसकी मौत हुई है। फिलहाल पुलिस ने बीती शाम ग्रामीणों की समझाइश देकर पीएम के लिए शव अस्पताल भेजवा दिया था। जिसका पोस्ट मार्टम शुक्रवार को किया गया।

गढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक ओंकार तिवारी ने बताया कि गुरुवार की शाम राधे साकेत पुत्र दुलारे साकेत (45) निवासी अमहा की मौत की सूचना आई थी। मौके पर थाने से पुलिस बल भेजा गया था। लेकिन परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।

कहा जाता है कि युवक गांव से पैदल गुजर रहा था। इसी दौरान एक ट्रैक्टर चालक ने ठोकर मार दी। टक्कर लगने के बाद युवक की मौके पर मौत हो गई। हत्या की जानकारी ​लगते ही ग्रामीण एकत्र हो गए। आरोप लगाया कि ट्रैक्टर की ठोकर मारकर मौत के घाट उतार दिया गया है।

दो वर्ष पहले हुआ था विवाद
​परिजनों ने पुलिस के सामने आरोप लगाया कि दो वर्ष पहले विवाद हुआ था। इस विवाद में आरोपी ने युवक की पिटाई की थी। इसी विवाद को ग्रामीण हत्या का कारण मान रहे है। पुलिस का कहना है कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि हत्या हुई है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.