रीवा जिले के अतरेला थाना अंतर्गत पटेहरा गांव में दो गज सरकारी जमीन के लिए भाई ने अपने ही खून की हत्या कर दी. सूत्रों की माने तो कल शाम विवाद शुरू हो गया था। तभी इसने हिंसक रूप ले लिया जब बड़ा भाई घर के अंदर से दरांती लेकर छोटे भाई को मारने दौड़ा। यह देख उसने उस पर दो बार दरांती से वार किया। पहला घाव छाती में और दूसरा कान के पास लगा। घटना के बाद छोटा भाई खून से लथपथ जमीन पर गिर पड़ा।

Exit Polls 2022 पांच राज्य में किसकी सरकार, एग्जिट पोल्स नतीजे

फिर इसकी जानकारी थाने में डायल 100 समेत आसपास के लोगों को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस प्राथमिक उपचार कर एंबुलेंस की मदद से एसजीएमएच रीवा पहुंची। यहां डॉक्टरों ने जैसे ही इलाज शुरू किया। इसी तरह घायलों की मौत हो गई। इस मामले में अटरेला पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी बड़े भाई को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक मंगलवार दोपहर पीएम के बाद मृतक का शव परिजनों को सौंप दिया गया है.

TMKOC के जेठालाल बने ‘रईस’ के शाहरुख खान, फोटो देख खुश हो जाएगा मन

सरकारी सड़क विवाद


अतरेला थाना प्रभारी कन्हैया सिंह ने बताया कि सोमवार की देर शाम राम नारायण केवट पुत्र अमरनाथ केवट (45) निवासी पटेहरा अपने घर के सामने प्रस्तावित सरकारी सड़क की सफाई कर रहा था. तभी राम नारायण केवट का बड़ा भाई घर के अंदर से निकला और बोला कि यहां से कोई रास्ता नहीं निकलेगा. इसका छोटे भाई ने विरोध किया। बड़े भाई के साथ भी ऐसा ही हुआ था। वह अंदर भागा और दरांती लेकर बाहर आया।

TATA IPL 2022 नीलामी में सबसे ज्यादा कमाई करने वाले ये है 10 खिलाड़ी

कहा- अगर तुम रास्ते से नहीं हटे तो मैं तुम्हें मार डालूंगा:


मृतक पक्ष के लोगों ने बताया कि आरोपी बड़े भाई ने दरांती दिखाकर कहा कि मैं सड़क पर नहीं जाऊंगा. लेकिन छोटे भाई को यह समझ नहीं आया कि असल में वह मार डालेगा। नतीजतन, दो वार हुए। पहला छाती में और दूसरा कान के नीचे गले पर। छोटे भाई की तेज चोट से मौत हो गई। इस दौरान पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी और मौके पर बुलाया।

मध्य प्रदेश में कंसर्ट करने आई सपना चौधरी हुई बीमार: सतना में कंसर्ट के बाद हुआ पेट दर्द, रीवा अस्पताल में इलाज

तीन घंटे में छोटे भाई की मौत:


घटना के बाद अटेरेला पुलिस बिना कोई मौका गंवाए नजदीकी अस्पताल पहुंच गई. जहां गंभीर रूप से घायल युवक को 108 एंबुलेंस की मदद से संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल रीवा भेजा गया. एसजीएमएच पहुंचे घायलों को सर्जरी वार्ड के आईसीयू में भर्ती कर इलाज शुरू किया गया। लेकिन गहरे जख्म के कारण डॉक्टर उसे नहीं बचा सके। मौत की सूचना मिलते ही अटेरेला थाना प्रभारी ने आरोपी बड़े भाई को गिरफ्तार कर थाने ले गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.