झांसी में बेरहम पति ने पत्नी की बेरहमी से पिटाई कर दी। बचने के लिए पत्नी कमरे में बंद हुई तो पति ने घर में लगा लगा दी। धुआं देख लोगों ने पुलिस को सूचना दी। तब पति ने दरवाजा नहीं खोला। पुलिस ने गैती से दरवाजा तोड़कर महिला को लहूलुहान हालत में बाहर निकाला और आरोपी पति को हिरासत में ले लिया।

Rewa News: दो दिन पहले लापता हुए युवक का 10 KM दूर बाणसागर नहर में मिला शव, युवक को मिर्गी की बीमारी थी जिसके कारण हुआ हादसा

घटना बुधवार रात करीब 9 बजे वीरांगना नगर में हुई। सूचना पर महिला के मायके पक्ष के लोग झांसी पहुंच गए। महिला मेडिकल कॉलेज में भर्ती है। घर बेचन की बात पर दोनों के बीच विवाद हुआ। जिसके बाद पति बेरहम बन गया।

पत्नी से मारपीट कर पति ने घर में आग लगा दी। आग से जला हुआ सामान।

एक साल से चल रहा है विवाद


कानपुर के गोविंद नगर निवासी सोनिया घई (45) की शादी करीब 22 साल पहले झांसी के वीरांगना नगर निवासी मुकेश घई से हुई थी। भतीजे जयंत भाटिया ने बताया कि करीब एक साल पहले मुकेश ने बुआ सोनिया के साथ मारपीट की थी। तब से बुआ मायके में रह रही थी। अब पता चला कि मुकेश और उसका छोटा भाई मिलकर अपना घर बेच रहे हैं।

तब करीब एक माह पहले बुआ झांसी आकर परिचित के घर पर रुकीं थीं। बुधवार शाम करीब 6 बजे सोनिया पति के घर पर गई थी। वहां पर घर बेचने की बात पर सोनिया और मुकेश का झगड़ा हो गया। तब मुकेश ने लोहे के सरिया और कैंची से सोनिया पर हमला कर दिया।

पत्नी से मारपीट करके पति ने घर में आग लगा दी। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर पत्नी को बचाया और पति को हिरासत में ले लिया।

पत्नी से मारपीट करके पति ने घर में आग लगा दी। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर पत्नी को बचाया और पति को हिरासत में ले लिया।

पुलिस न पहुंचती तो दोनों का दम घुट जाता


हमले से सोनिया लहूलुहान हो गई और बचने के लिए अपने आपको एक कमरे में बंद कर लिया। इसके बाद मुकेश ने रजाई-गद्दे में आग लगा दी। उसी कमरे में गैस सिलेंडर भी रख दिया। धुआं देखकर आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। तब विश्वविद्यालय चौकी इंचार्ज अनुराग अवस्थी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गए।

आम आदमी को लग सकता है बड़ा झटका: MP में 1 साल में तीसरी बार महंगी होगी बिजली, नए साल के लिए बिजली कंपनियों की टैरिफ याचिका मंजूर

आवाज देने पर पति ने दरवाजा नहीं खोला। तब पुलिस ने गैती से दरवाजा तोड़ा और कमरे से सोनिया को बाहर निकालकर पति को हिरासत में ले लिया। घर में धुआं ही धुआं हो गया था। अगर पुलिस को मौके पर पहुंचने में थोड़ी भी देरी हो जाती तो दम घुटने से दोनों की मौत हो सकती थी। आरोप है कि घर मुकेश व उसके छोटे भाई के नाम पर है। घटना के वक्त छोटा भाई बाहर पहरा दे रहा था।


हार्ट पेशेंट हैं सोनिया


भतीजे ने बताया कि बुआ सोनिया पहले वीरांगना नगर में घर पर ब्यूटी पार्लर चलाती थी। लेकिन विवाद के चलते पार्लर बंद हो गया। सोनिया हार्ट पेशेंट हैं। उनके कुछ समय बाद हार्ट का ऑपरेशन भी होना है। अभी पेसमेकर मशीन लगी है। घटना की सूचना मिलने के बाद मायके पक्ष के लोग झांसी पहुंच गए और नबाबाद थाने में शिकायत दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.