मध्यप्रदेश के आगर-मालवा में साली से अफेयर में जीजा की हत्या कर दी गई। जीजा ने साली के पति को उसकी सुहागरात पर धमकाया था। उसने फोन पर कहा था कि साली से दूर रहना, वो मेरी है। साढ़ू ने इस धमकी का बदला एक साल बाद हत्या करके लिया। उसने अपने चचेरे भाई के साथ मिलकर उसकी गुप्ती से गोदकर हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

वारदात निपानिया बैजनाथ गांव की है। 1 दिसंबर को गांव के 44 साल के नूर मोहम्मद शेख की अज्ञात हमलावरों ने हत्या कर दी थी। एसपी राकेश कुमार सगर ने आरोपियों पर 10 हजार रुपए का इनाम घोषित कर टीम बनाई थी।

पहले से ही तीन शादियां, फिर भी साली से थे अवैध संबंध

जांच में पता चला कि नूर मोहम्मद ने तीन शादियां की थीं। तीसरी शादी उसने गंगापुर की रानी पिता वकील खां से की थी। वह पत्नी और चार बच्चों के साथ करीब चार साल से ससुराल गंगापुर में रहने आ गया था। कुछ समय बाद ही वह अपने गांव निपानिया बैजनाथ रहने गया था।

नूर मोहम्मद।

नूर मोहम्मद।

जांच में पता चला कि ससुराल में रहते हुए नूर मोहम्मद का अपनी साली से अफेयर हो गया। नवंबर 2020 में साली की शादी 22 साल के सोहेल पुत्र इब्राहिम उर्फ अब्बू पठान निवासी बड़ौद से हुई थी। साली ससुराल पहुंची तो पहली रात ही नूर मोहम्मद ने अपने साढ़ू सोहेल को कॉल किया। उसने धमकाया कि तेरी पत्नी को मैंने रख रखा है। तू उससे दूरी बनाकर रखना, नहीं तो ठीक नहीं होगा। इससे गुस्साए सोहेल ने उसी रात नूर को रास्ते से हटाने का ठान लिया था।

रैकी कर गुप्ती से गोदा
वारदात के दिन नूर की पत्नी सोहेल के बेटे को झूला डालने के कार्यक्रम में गंगापुर गांव गई हुई थी। 30 नवंबर को सोहेल भी अपनी ससुराल गंगापुर पहुंचा, जहां उसे नूर मोहम्मद नजर नहीं आया। सोहेल यहां से अपने 22 साल के चचेरे भाई जाफर पुत्र मुबारिक खान के साथ निपानिया बैजनाथ चल गया। यहां नूर को अकेला पाकर उन्होंने गुप्ती से उसे गोद दिया। हत्या कर बड़ौद लौटते समय गुप्ती को रास्ते में पुलिया के नीचे फेंक दिया था। वे बड़ौद पहुंचे तो सबसे पहले अपने गैराज पर गए। यहां बाइक खड़ी कर खून से सने कपड़ों को जला दिया।

पुलिस जांच में पता चला कि सोहेल 30 नवंबर 2021 को बाइक से नूर मोहम्मद के गांव आया था। इस पर शक हो गया। पुलिस ने हिरासत में लेकर सोहेल से पूछताछ की। उसने हत्या की बात स्वीकार कर ली।​​​​​​ पुलिस ने शुक्रवार को दोनों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.