Rewa News: रीवा में करोड़पति निकला PWD का टाइमकीपर 1.50 करोड़ की संपत्ति का हुआ खुलासा

करोड़ो की संपत्ति का हुआ खुलासा

आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (EOW) इकाई रीवा ने आय से अधिक संपत्ति के मामले में लोक निर्माण विभाग (PWD) के टाइमकीपर के घर में दबिश से 1.50 करोड़ की संपत्ति का खुलासा किया है। EOW सूत्रों का कहना है कि अकेले दो मंजिला मकान की कीमत 95 लाख आंकी गई है।वहीं 10 भू-खण्डों के दस्तावेज मिले है। दावा है कि पीडब्ल्यूडी के समयपाल ने यूपी के मिर्जापुर जिले में कई जमीनें खरीदी है। जिसके सत्यापन की कार्रवाई जारी है। चर्चा है कि आने वाले दिनों में EOW के हाथ और बड़ी सफलता मिल सकती है। उक्त सर्चिंग की कार्रवाई रविवार की देर शाम तक चली थी।

pi network क्या है? pi नेटवर्क कब लांच होगा इसकी क्या price होगी?

EOW वीरेंद्र जैन नए वीरेंद्र जैन नए कन्ननतांग सौरभ्रांचुर उत्साह एजेंट (61) रघुवर रघुवर्रावर सुगंधित पदार्थ खराब हो जाते हैं। वे 35 वर्ष तक लोक निर्माण के समय पाल के पद पर अनुमंडल मऊगंज के पद पर रहे।

ऐसी स्थिति में होने की शिकायत दर्ज कराई गई थी। रसीद पर चेक करें। पहली बार की गई कार्रवाई को ईओडब्ल्यू की 20 सदस्यीय टीम ने सुबह पांच बजे से शाम छह बजे तक अंजाम दिया है.

तारक मेहता की बबीता जी फिर हुईं बोल्ड, झूले पर बैठ दिए ऐसे पोज

इन जमीनों के लिए दस्तावेज:

परिपक्व रघुवर गांव में 0.0040 हेक्टेयर, 0.1700 हेक्टेयर, 0.0400 हेक्टेयर और 0.0370 हेक्टेयर भूमि पर पन्ना लाल के नाम से खसरा दर्ज किया गया है. इस धर्म पुत्र संजीव शुक्ल एवं रदिव शुक्ल के नाम पर 0.0530 हेक्टेयर, 0.0250 हेक्टेयर, 0.1010 हेक्टेयर भूमि दो भाइयों के नाम पाई जाती है। संजीव के नाम पर 0.2430 हेक्टेयर और राय के नाम 0.0130 हेक्टेयर है. 0.0770 हेक्टेयर ट्विटर गीता देवा का नाम कर्मचारियों में दर्ज किया गया है।

11 लाख वाहन का हुआ खुलासा:

पीडब्ल्यूडी के समय कीपर पन्नाल के घर से 11 लाख चालक। Jaime MP-17-MY-3153 स्प्लेंडर मोटरसाइकिल का नाम पन्ना लाल शुक्ला, MP-17-MR-5880-C.B. शाइन मोटरसाइकिल पन्ना लाल शुक्ला नाम, एमपी-17-एसडी-5830- टीवीएस ज्यूपिटर स्कूटर का नाम राजीव नाम, एमपी-17-सीबी-6300- बोलेरो चौपहिया बेटी राजीव शुक्ला परिवहन विभाग में शामिल है।

सपना चौधरी पर चढ़ा ‘पुष्पा’ फीवर, फैंस बोले- ससुराल में झुकना नहीं

बैंक, नकदी मिलाकर 10 लाख:

लोक निर्माण विभाग आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ की तलाश में अनादि काल से संकट में है। ईओडब्ल्यू निरीक्षक प्रवीण चतुर्वेदी के अनुसार 8 बैंकों की पासबुक में जमा राशि 6 ​​लाख रुपये, डाकघर में जमा राशि 65500 रुपये, बीमा पॉलिसियों में जमा प्रीमियम 2.70 लाख रुपये और नकद राशि पाई गई है. 39,450 रुपये की राशि मिली है।

यूपी के मिर्ज़पुर में

पन्नालाल ने गांव में ही वोट डाला. ग्राउंड फ्लोर 3600 है और फर्स्ट फ्लोर 3600 क्लास फिट में है। निर्माण राशि 95 लाख तक है, रचना या आंकड़ा। यह दावा किया जाता है कि इसे पन्ना लाल ने मिर्ज़पुर उत्तर प्रदेश में भी पाया था। सापेक्ष एकता को कायम रखा गया है। हाल ही में 1.50 करोड़ से अधिक की देनदारी बनी है।

देर रात कार्रवाई: पत्नी से विवाद किया तो खोल दिया नकली घी बनाने का राज, खाद्य व औषधि नियंत्रण विभाग ने जब्त की 40 किलो घी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *