नाग पंचमी 2022: कब है नाग पंचमी? इस दिन भूलकर भी न करें ये काम, जानिए शुभ मुहूर्त

नाग पंचमी के दिन महिलाएं नाग देवता की पूजा करती हैं और सांपों को दूध पिलाती हैं। इस वर्ष नाग पंचमी का पर्व 2 अगस्त 2022 को मनाया जाएगा। श्रावण मास की पंचमी तिथि को नाग देवताओं की पूजा के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। सनातन धर्म में सांप को पूजनीय माना गया है। भगवान श्री हरि विष्णु भी शेषनाग पर विराजमान हैं।

नाग पंचमी का पर्व सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। नाग पंचमी के दिन महिलाएं नाग देवता की पूजा करती हैं। इस दिन सांपों को दूध चढ़ाया जाता है। महिलाएं इस दिन अपने परिवार के सदस्यों के लिए पूजा करती हैं। सनातन धर्म में नागों का विशेष स्थान है। सर्प देवताओं की पूजा के लिए कुछ दिन बहुत शुभ माने जाते हैं, जिनमें से एक श्रावण मास की पंचमी तिथि है। इस दिन नाग देवता की पूजा करना बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है।

शादी के दिन दहेज में मिलनी थी बाइक, शादी के दिन बाइक नहीं मिलने पर ससुराल वालों ने किया ऐसा

नाग पंचमी शुभ मुहूर्त (नाग पंचमी 2022 शुभ मुहूर्त)

नाग पंचमी मंगलवार 2 अगस्त 2022 को
नाग पंचमी पूजा मुहूर्त – सुबह 06:05 से 08:41 तक
अवधि – 02 घंटे 36 मिनट
पंचमी तिथि प्रारंभ – 02 अगस्त, 2022 पूर्वाह्न 05:13 बजे
पंचमी तिथि समाप्त – 03 अगस्त, 2022 पूर्वाह्न 05:41 बजे

अमिताभ बच्चन की बहू ऐश्वर्या का अंबानी से है अनोखा रिश्ता, एक-दूसरे के सुख-दुख के दोस्त हैं दोनों, देखें अलग-अलग तस्वीरें

नाग पंचमी पूजा मंत्र

सर्वे नागा: प्रियंतन में केचित पृथ्वी कथा।
ये चा हेलीमरिचिष्ट यंत्र दिवि संस्था:
ये नादिशु महानगा ये सरस्वतीगामिनाह।
ये चा वपितद्गेशु तेशु सर्वेशु वै नमः

Janhvi Green Saree Look: जानवी का ग्रीन साड़ी में खूबसूरत लुक देखकर नजरे नहीं हटा पाओगे

अर्थ- इस संसार में आकाश, स्वर्ग, सरोवर, कुएं, तालाब और सूर्य-किरणों में निवास करने वाले नाग हमें आशीर्वाद दें और हम सब आपको बार-बार नमन करते हैं।

अनंतम वासुकिम शेषम पद्मनाभम चा कम्बलम।
शंख पालम धृतराष्ट्र तक्षम कलियम और
एतानी नवा नामानी नागनन चा महात्मानम।
खासकर सुबह के समय।
तस्य विश्वभयम नास्ति सर्वत्र विजयी है।

अर्थ- नौ नाग देवताओं के नाम अनंत, वासुकी, शेष, पद्मनाभ, कंबल, शंखपाल, धृतराष्ट्र, तक्षक और कालिया हैं। यदि प्रतिदिन सुबह इनका नियमित रूप से जाप किया जाए, तो नाग देवता आपको सभी पापों से सुरक्षित रखेंगे और आपको जीवन में विजयी बनाएंगे।

तारक मेहता का उल्टा चश्मा की सोनू अब कर रही है यैसी गन्दी हरकते जानिए वायरल फोटो राज

नाग पंचमी के दिन रखें इन बातों का खास ख्याल

  • ऐसा माना जाता है कि नाग पंचमी के दिन व्रत करना चाहिए। इस दिन नाग देवताओं की पूजा करनी चाहिए, उन्हें जल अर्पित करना चाहिए और मंत्रों का जाप करना चाहिए।
  • नाग पंचमी के दिन सूई के धागे का प्रयोग नहीं करना चाहिए और न ही इस दिन लोहे के बर्तन में खाना बनाना चाहिए।
  • यदि कुंडली में राहु और केतु भारी हों तो इस दिन नागों की पूजा करें। इस बात का ध्यान रखें कि इस दिन नाग देवता को दूध चढ़ाते समय पीतल के गोले का प्रयोग करना चाहिए।
  • नागपंचमी के दिन जहां सांपों का बिल हो वहां जमीन बिल्कुल नहीं खोदनी चाहिए। ना ही इस दिन सांपों का वध करना चाहिए। कहीं सांप दिखे तो उसे जाने दें।

One thought on “नाग पंचमी 2022: कब है नाग पंचमी? इस दिन भूलकर भी न करें ये काम, जानिए शुभ मुहूर्त

Leave a Reply

Your email address will not be published.